National Pension scheme 2023 के नियमों में हो सकता है बड़ा बदलाव

National Pension scheme 2023 (NPS) : कई राज्यों में लगातार ओल्ड पेंशन स्कीम की बढ़ती मांग के बीच केंद्र सरकार NPS (नेशनल पेंशन स्कीम) को लेकर बड़े बदलावों पर विचार कर रही है।

इन बदलावों के बाद NPS में कर्मचारियों को न्यूनतम 40 से 45 फीसदी पेंशन मिलेगी। Old pension scheme में यह आखिरी सैलरी की 50 फीसदी पेंशन मिलती थी।
“रॉयटर्स के अनुसार”, सरकार NPS के नियमों में जो बदलाव करेगी उसके तहत सरकारी कर्मचारियों के रिटायरमेंट से पहले जो आखिरी सैलरी मिलेगी, उसके आधार पर ही कर्मचारियों की मिनिमम पेंशन तय हो सकती है।

कई राज्यों में पुरानी पेंशन स्कीम बहाल

विपक्ष शासित कई राज्यों में पुरानी पेंशन स्कीम लागू करने के बाद भारत सरकार की ओर से यह बदलाव देखने को मिल रहा है। कांग्रेस शासित कई राज्यों जैसे हिमाचल प्रदेश में 19 साल बाद old pension scheme को बहाल किया गया है।

नेशनल पेंशन स्कीम (NPS) कब लागू हुई थी


सन 2005 में भूतपूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्री अटल बिहारी बाजपेयी सरकार द्वारा 1अप्रैल 2005 के बाद नियुक्त होने वाले कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन स्कीम को बंद कर दिया गया था और इसकी जगह नई पेंशन स्कीम लागू कर दी गई थी।

ओल्ड पेंशन स्कीम VS नेशनल पेंशन स्कीम (NPS) 

ओल्ड पेंशन स्कीम में सरकार कर्मचारी की लास्ट सैलरी की 50% पेशेंट की गारंटी देती है। इसके लिए कर्मचारियों को अपने जॉब के दौरान कोई योगदान नहीं देना होता है। वही नेशनल पेंशन स्कीम में कर्मचारी को अपनी बेसिक सैलरी का पद 10 फ़ीसदी योगदान देना होता है। वही सरकार 14 फ़ीसदी योगदान बढ़ती है एनपीएस में पेंशन कॉरपस के रिटर्न पर निर्भर करती है।

1 thought on “National Pension scheme 2023 के नियमों में हो सकता है बड़ा बदलाव”

Leave a comment