एलोवेरा

यह पौधा आसानी से घर पर लगाया जा सकता है, इसमें कई औषधीय गुण होते हैं, इसके सेवन से पेट संबंधित सभी विकार दूर होते है। एलोवेरा का भीतरी हिस्सा चेहरे पर लगाने से दाग धब्बे दूर होते है

तुलसी

तुलसी एक धार्मिक पौधा होने के साथ साथ औषधीय गुणों से भी भरपूर है। इसका नियमित सेवन रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। हृदय संबंधित व मधुमेह जैसे रोगों में भी इसका सेवन लाभदायक होता है

अश्वगंधा

अश्वगंधा अपने रसायन गुण के लिए जाना जाता है। यह याददाश्त और बुद्धि को बढ़ाने में मदद करता है। इसका सेवन नींद से संबंधित समस्याओं में आराम दिलाता है व मानसिक तनाव दूर होता है

हल्दी

हल्दी एक महत्वपूर्ण औषधि है, इसके एंटीसेप्टिक गुणों व एंटीबैक्टीरियल गुणों के कारण घरेलू उपचार में भी इसका इस्तेमाल होता है। हल्दी के सेवन से रक्त साफ होता है

पुदीना

पुदीना औषधीय गुण से भरपूर होता है, गर्मी के दिनों में इसका सेवन करने से हाज़मा सही रहता है और लू से भी बचाव होता है। उल्टी और पेट दर्द में भी पुदीना अति लाभकारी है

नीम

नीम को आयुर्वेद में एक अत्यंत शक्तिशाली जड़ी-बूटी माना गया है, नीम में एंटीसेप्टिक, एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट संबंधी कई तत्व पाए जाते हैं, जिससे अनेक स्वास्थ्य समस्याओं का इलाज किया जा सकता है

मेथी

मेथी का सेवन सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है,मेथी के पत्तों के साथ-साथ मेथी का बीज भी फाइबर, खनिज, विटामिन और पोषक तत्वों का एक बहुत अच्छा स्रोत हैं। ये तांबा, पोटेशियम, कैल्शियम, लोहा, सेलेनियम, जस्ता, मैंगनीज और मैग्नीशियम जैसे खनिजों का एक बड़ा स्रोत है

अदरक

अदरक कई औषधीय गुणों से भरपूर है, जिसमें प्रचुर मात्रा में विटामिन ए, विटामिन डी और विटामिन ई होता है। अदरक प्राकृतिक दर्द निवारक है। इससे सूजन दूर होती है

लहसुन

लहसुन एन्टीसेप्टिक और एंटीबैक्टीरियल गुणों से भरपूर है, सुबह खाली पेट लहसुन का सेवन हमारे शरीर को कई लाभ देता है। लहसुन अपने एंटीऑक्सीडेंट गुणों के चलते कोलेस्ट्रॉल के स्तर को भी नियंत्रित रखता है

जानिए : अपराजिता के फूल की चाय ( Blue Tea) पीने के फायदे