सर्दियों में कम पानी पीने से होंगे ये नुकसान

पानी पोषक तत्वों के परिवहन, शरीर से अपशिष्ट को हटाने, प्रतिरक्षा प्रणाली का समर्थन करने, आपके ऊतकों और अंगों को हाइड्रेट करने, रक्तचाप को बनाए रखने के साथ-साथ शरीर के उचित तापमान को बनाए रखने के लिए आवश्यक है

ठंड के मौसम में कम प्यास लगती है और हम लोग पानी पीना कम कर देते है इससे सर्दियों में भी डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है

पानी एक आवश्यक घटक है और यह आपके शरीर के वजन का लगभग 60% बनाता है

सर्दियों के दौरान हाइड्रेटेड रहने से आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा मिल सकता है और आपके शरीर को संक्रमण से लड़ने के लिए आवश्यक सहायता मिल सकती है

कम पानी पीने के कारण सरदर्द, रूखी त्वचा, कब्ज़, किडनी स्टोन, यूरिनरी ट्रैक्ट में संक्रमण, चक्कर आना, मांसपेशियों में ऐंठन आदि की समस्या भी हो सकती है

दैनिक पानी की जरूरतें हर व्यक्ति के हिसाब से अलग-अलग होती हैं हेल्दी इंसान को रोजाना करीब 8 गिलास या डिहाइड्रेशन के संकेतों को देखते हुए अपनी जरूरत के हिसाब से पानी पीना चाहिए

सर्दियों में चाय या कॉफ़ी का अधिक सेवन करने से भी डीहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है, शरीर को गर्माहट देने के लिए आप सूप, काढ़ा और ग्रीन टी का सेवन कर सकते हैं

अपने आहार में ऐसी चीज़ों को शामिल करें जिनमें पानी और आवश्यक खनिज प्रचुर मात्रा में हों। इसके लिए सब्जियां और फल खाएं. इनमें 80-96% तक पानी हो सकता है और ये खनिजों से भी भरपूर होते हैं

सर्दियों के मौसम में शराब के सेवन से भी बचना चाहिए, इसमें मौजूद अल्कोहल की मात्रा के कारण यूरिनेशन बढ़ जाता है और शरीर के डीहाइड्रेट होने की संभावना बढ़ जाती है

समय समय पर गुनगुना पानी  पीते रहे यह आपके शरीर से विषैले तत्वों को बाहर निकालकर त्वचा को चमकदार बनाएगा और शरीर को स्वस्थ रखेगा

इन तरीकों को अपनाकर आप पूरे सर्दियों के महीनों में हाइड्रेटेड और स्वस्थ रहने के अपने प्रयासों में सफल हो सकते हैं

इन 8 तरीकों से बढ़ाएं बच्चों की इम्युनिटी