सहजन (Moringa) में छिपा है सेहत का खजाना, जाने इसके फायदे

मोरिंगा या सहजन आपके स्वास्थ्य के लिए एक अद्भुत जड़ी बूटी है। सहजन के फूल, पत्तियां व फली सभी को खाने में इस्तेमाल किया जा  सकता है, यह बहुत ही गुणकारी व पोषक तत्वों से भरपूर होता है

सहजन की फली (Moringa pods) में कई आवश्यक तत्व पाए जाते हैं, जैसे: विटामिन ए, विटामिन बी1 (थियामिन), विटामिन बी2 (राइबोफ्लेविन), विटामिन बी3 (नियासिन), विटामिन सी (एस्कॉर्बिक एसिड), कैल्शियम, पोटाशियम, लोहा, मैगनीशियम, फास्फोरस, आदि

मोरिंगा की पत्तियां अमीनो एसिड से भरपूर होती हैं, जो प्रोटीन का निर्माण करती हैं। इनमें पाए जाने वाले 18 प्रकार के अमीनो एसिड हमारे स्वास्थ्य में महत्वपूर्ण योगदान देते हैं

अमीनो एसिड से भरपूर

कोलेस्ट्रॉल लोगों के हृदय रोगों से पीड़ित होने का प्रमुख कारण है और मोरिंगा की पत्तियां खाने से उच्च कोलेस्ट्रॉल के स्तर में काफी सुधार देखा गया है। सहजन की फली और पत्तियां खाने से यह स्तर कम हो सकता है और हृदय रोग के खतरे से बचाव हो सकता है

कोलेस्ट्रॉल कम करता है

मोरिंगा की पत्तियां लीवर कोशिकाओं की मरम्मत में तेजी लाती हैं। पत्तियों में उच्च पॉलीफेनोल्स होते हैं जो लीवर को ऑक्सीडेटिव क्षति से बचाते हैं और इसे कम भी कर सकते हैं। वे लीवर में प्रोटीन के स्तर को भी बढ़ाते हैं और लीवर एंजाइम को स्थिर करते हैं

लीवर की रक्षा करता है  

सहजन (Moringa)की पत्तियां कैल्शियम और फास्फोरस का समृद्ध स्रोत हैं। हड्डियों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए ये दोनों तत्व आवश्यक हैं

हड्डियों के स्वास्थ्य में सुधार

 आइसोथियोसाइनेट्स की उपस्थिति के कारण मोरिंगा की पत्तियां प्रकृति मसूजन-रोधी होती हैं, सूजन कई बीमारियों जैसे कैंसर, गठिया, rheumatoid arthritis और कई ऑटोइम्यून बीमारियों का मूल कारण है

सूजन से लड़ें

कोलेस्ट्रॉल लोगों के हृदय रोगों से पीड़ित होने का प्रमुख कारण है, सहजन की फली और पत्तियां खाने से उच्च कोलेस्ट्रॉल के स्तर कम हो सकता है और हृदय रोग के खतरे से बचाव हो सकता है 

कोलेस्ट्रॉल कम करता है

सहजन (Moringa) की एंटीऑक्सीडेंट गतिविधि तंत्रिका तंत्र को प्रभावित करने वाले विकारों से बचा सकती है, जैसे मल्टीपल स्केलेरोसिस (एमएस), अल्जाइमर रोग, न्यूरोपैथिक दर्द और अवसाद  आदि 

तंत्रिका तंत्र संबंधी विकारों को दूर करना

मोरिंगा या सहजन की पत्तियों का अर्क मधुमेह से पीड़ित लोगों को लाभ पहुंचा सकता है, यह रक्त शर्करा और इंसुलिन के स्तर को प्रबंधित करने और अंगों की क्षति  होने से बचाने में सहायता करता है

मधुमेह का इलाज

मोरिंगा में एंटीऑक्सीडेंट बीटा कैरोटीन होता है, जो आंखों के स्वास्थ्य को बनाए रखने और आंखों की बीमारियों को रोकने के लिए आवश्यक है

नेत्र स्वास्थ्य में सुधार

मोरिंगा में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट आपके शुक्राणु को स्वस्थ रखने में मदद कर सकते हैं। मोरिंगा की पत्ती का पाउडर वीर्य की मात्रा, शुक्राणुओं की संख्या और शुक्राणु की गतिशीलता में काफी सुधार कर सकता है

शुक्राणुओं को स्वस्थ रखे

सहजन की सब्जी खाना, इसकी फली या पत्ती का सूप पीना, दाल में सहजन की पत्ती मिलाकर बनाकर सेवन करना सबसे मुख्य तरीके हैं। आप सहजन की पत्ती का पाउडर सुबह सेवन कर सकते हैं या पत्ती उबाल कर उसका पानी पियें

Moringa या सहजन का सेवन कैसे करें

विटामिन बी-12 की कमी को दूर करेंगें यह खाद्य पदार्थ