पारिजात (Night jasmine) के पत्तों का रस दूर करेगा आर्थराइटिस और साइटिका की समस्या

औषधीय गुणों से भरपूर हरसिंगार एक औषधीय पौधा है जिसे रात की रानी, पारिजात और नाइट जैसमीन के नाम से भी जाना जाता है पारिजात पर सुन्दर व सुगन्धित फूल लगते हैं

पारिजात या हरसिंगार के पत्तों को  औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता है

पारिजात के पत्तों को उबालकर इसका पानी पीने के अनेकों फायदे हैं

इसके पत्तों से बना काढ़ा पीने से अर्थराइटिस  और जोड़ों के दर्द में आराम मिलता है

साइटिका बीमारी में भी हरसिंगार के पत्ते का सेवन लाभकारी होता है

ऐसा माना जाता है कि 21 दिन तक हरसिंगार के पत्ते का काढ़ा पिया जाय तो साइटिका का दर्द दूर हो जाता है

रोजाना सुबह खाली पेट इस काढ़े को पीने से ये आपके लिए ज्यादा फायदेमंद साबित हो सकता है

हरसिंगार का काढ़ा   इसे बनाने के लिए पारिजात के  4-5  पत्तों को छोटा- छोटा तोड़कर 200 मि०ली० पानी में उबाल लें। जब पानी आधा रह जाये तब इसे छानकर रख लें, आप इसे आधा कप या एक चौथाई कप रोजाना खाली पेट पी सकते हैं

माँ दुर्गा को क्यों चढ़ाते हैं लाल रंग के फूल